उत्तराखंडदावादो टूकसरकार का फैसला

हल्द्वानी के वनभुलपुरा में अतिक्रमण मुक्त जमीन पर बनेगा हाईटेक पुलिस थाना

खबर को सुने

-वनभुलपुरा की घटना पर हरिद्वार में आक्रमक दिखे सीएम धामी
-अराजकता के लिए देवभूमि में नहीं कोई स्थान, सभी षड्यंत्रकारी आएंगे जनता के सामने
-कानून को हाथ में लेने का किसी को नहीं अधिकार

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी हल्द्वानी के वनभुलपुरा की घटना पर हरिद्वार में आक्रमक दिखे। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि वनभुलपुरा में अतिक्रमण वाले स्थान पर पुलिस थाना बनाया जाएगा। इसके अलावा देवभूमि में कानून को तोड़ने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जल्द घटना के लिए जिम्मेदार सभी षड्यंत्रकारी सामने लाये जांएगे।


हरिद्वार में नारी शक्ति महोत्सव को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि हल्द्वानी के वनभुलपुरा की घटना निंदनीय है। जिस तरह से अराजक तत्वों ने महिला पुलिस कर्मियों, पुलिस फोर्स के जवानों और नियमानुसार अतिक्रमण हटाने गई टीम के साथ अभद्रता की, वह देवभूमि में बर्दाश्त करने लायक नहीं है। मुख्यमंत्री ने साफ कहा कि वनभुलपुरा मामले में कानून अपना काम कर रहा है। सभी अतिक्रमण को हटाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने घोषण की कि अतिक्रमण वाले स्थान पर पुलिस थाना बनाया जाएगा। इससे पहले मुख्यमंत्री ने अल्मोड़ा और लोहाघाट (चंपावत) में भी हल्द्वानी की घटना पर कहा था कि वनभुलपुरा की घटना के सभी जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई होगी। सरकार अतिक्रमण पर न झुकेगी, न रुकेगी और सभी अतिक्रमण हटाते रहेगी।

हरिद्वार के विकास को 1168 करोड़ की सौगात

हरिद्वार में नारी शक्ति महोत्सव कार्यक्रम में सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि हल्द्वानी में उपद्रवियों को लगातार चिन्हित कर गिरफ्तार किया जा रहा है। पुलिस और कानून अपने तरीके से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस जगह पर अराजक तत्वों ने उत्पात किया है। उसे खाली कर लिया गया है। उन्होंने इस स्थान पर पुलिस थाना बनाने की घोषणा की। अराजक तत्वों पर लगातार कार्रवाई जारी रहेगी।उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देवपुरा से ऋषिकुल तक रोड शो किया। रोड शो में महिलाओं की ओर से सीएम का फुलों की बरसात कर स्वागत किया गया। इसके बाद सीएम धामी ने नारी शक्ति महोत्सव सम्मेलन में शिरकत की। उन्होंने में 1168 करोड़ की 158 परीयोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। जिसमें करीब 461 करोड़ की लागत से 97 योजनाओं का लोकार्पण किया। जबकि करीब 708 करोड़ की लागत से 61 योजनाओं का शिलान्यास किया। इस के बाद उन्होंने कन्याओं का पूजन किया। महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि यह पहला मौका होगा है, जब किसी जिले में इतनी लागत से बनने वाली योजनाओं का शिलान्यास और लोकापर्ण हुआ है। इन योजनाओं से पूरे जनपद में विकास का नया अध्याय लिखा जाएगा। पूरा जिला उन्नति करेगा। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को आज हमारे उत्तराखंड की महिलाएं चरितार्थ कर रही हैं।

ड्रीम प्रोजेक्ट तारा की शुरूआत

इस मौके पर सीएम ने ड्रीम प्रोजेक्ट तारा की शुरुआत की है। इस प्रोजेक्ट में 150 आंगनबाड़ी केंद्रों को आधुनिक तकनीक के रूप में बदला जाएगा। जिसमें आंगनबाड़ी केंद्र में स्मार्ट टीवी बच्चों के लिए फर्नीचर खिलौने और आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को नई शिक्षा नीति प्रणाली की ट्रेनिंग दी जाएगी। सीएम ने मीठी गंगा नामक एक और परियोजना की शुरुआत भी की है। इसमें लालढांग क्षेत्र में उत्पादित शहद को सहकारिता से माध्यम से देश-विदेश में बेचा जाएगा।उन्हाेंने कहा कि हरिद्वार-ऋषिकेश कॉरिडोर निर्माण से अयोध्या काशी विश्वनाथ की तरह ही हरकी पैड़ी कॉरिडोर को भी विश्व के मानचित्र पर एक अलग पहचान दिलाना चाहते हैं। इसलिए, कॉरिडोर का निर्माण का काम तय सीमा में किया जाएगा।

महिलाओं ने बनाये स्थानीय उत्पाद

इस दौरान सीएम ने नारी शक्ति महोत्सव में लगाए गए स्टॉल्स का निरीक्षण करते हुए महिलाओं की ओर से बनाए गए स्थानीय उत्पादों व व्यंजनों के बारे में जानकारी ली। सीएम ने स्वरोजगार के लिए महिलाओं को बढ़ावा देने के लिए चाक पर बर्तन और सिल पर मसाला तैयार भी किया। इस मौके पर लोक सभा सांसद रमेश पोखरियाल निशंक, राज्य सभा सांसद डा. कल्पना सैनी, नरेश बंसल, विधायक मदन कौशिक, आदेश चौहान, प्रदीप बत्रा, जिला पंचायत अध्यक्ष चौधरी किरण सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष संदीप गोयल, शोभाराम प्रजापपित, श्यामवीर सैनी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button